हिन्दू मुस्लिम छोड़िए और अल्लाह की कुदरत पर भरोसा रखिए, वरना सब कुछ खत्म हो जाएगा

    0
    675

    दोस्तों आज के इस पोस्ट में हम बात करने वाले अल्लाह की कुदरत के एक ऐसे करिश्मे के बारे में जिसके बारे में सुनकर आज सरी दुनिया के लोग हैरान और परेशानी हैं

    तो दोस्तों अगर आप अल्लाह की कुदरत पर पूरा भरोसा और पूरा यकीन रखते हैं तो आप हमारी इस पोस्ट को आखिर तक जरूर देखें और कमेंट बॉक्स में अल्लाह हुअकबर पर लिखकर अपने दोस्तों में जरूर शेयर करें

    तो चलिए पोस्ट शुरू करते हैं दोस्तों अल्लाह की कुदरत की आगे किसी की भी नहीं चलती कुदरत जैसा चाहें वैसे हमें देखना पड़ता है

    आज दुनिया भर में इस कारोना नामी वायरस का कहर फैला हुआ है एक करोना वायरस के आगे डेढ़ सौ करोड़ की आबादी वाला देश चीन अपने ही घर में बंदी बनकर रह गया है

    सारे रास्ते वीरान हो गयी चीन के राष्ट्रपति तक भूमिगत हो गए ही एक छोटा सा जंतु और दुनिया को आंखें दिखाने वाला चीन एकदम शांत डरा हुआ है और दोस्तों सिर्फ चीन ही क्यों तमाम दुनिया को एक पल में ख़ामोश करने की ताकत उस कुदरत में है

    हम लोग जात पात धर्म के भेदभाव को और प्रांतवाद की अहंकार में भरे हुए हैं ये गरूर ये घमंड इस करोना ने सिर्फ एक ही झटके में उतार दिया है आज हम डिटेंशन कैंप में लोगों को भरने की तयारी कर रहे हैं मगर कुदरत के इस हट के लिए दुनिया को सिर्फ एक ही झटके में बंदी बनाकर रख दिया है

    यही नहीं नौबत यहाँ तक आ गई है कि आज चीन का राष्ट्रपति खुद भूमिगत रहते हुए अपने ही 20 हजार जिंदा लोगों को मौत के घाट उतार देने की बात बोलने लगाएं यह है कुदरत इस दुनिया का कोई भी जीव इस कुदरत के आगे बेबस और लाचार हैं

    कुदरत ने शायद यही वे पैग़ाम लोगों को दिया है दोस्तों ये वहीं चीन है जिसने कभी मुस्लिम औरतों की हिजाब पर पाबंदी लगा दी थी मगर आज अल्लाह की कुदरत देखी सारे दुनिया के लोगों को हिजाब पहना कर खड़ा कर दिया है

    दोस्तों ये वहीं चीन है जिसने बेकुसूर लोगों को डिटेंशन कैंप में डाला था मगर आज अल्लाह की कुदरत देखिए आज सारीं दुनिया को कैदखाने में खड़ा कर दिया हैं यही नहीं इस करुणा के डर से हमारे देश की प्रधानमंत्री ने तो होली तक ना मनाने का ऐलान कर दिया है

    दोस्तों जे अल्लाह की कुदरत उसकी कुदरत के आगे हम सब लाचार और बेबस है शायद कुदरत ने लोगों को यह ही एक पैग़ाम दिया है इसलिए दोस्तों प्यार से रहो जियो और जीने दो वरना याद रखो यह करुणा एक सुनामी है

    इस दुनिया में जीना है तो प्यार और मोहब्बत से जियो अगर गुरुर करोगे तो कुदरत हमे सिर्फ एक ही झटके में खत्म कर देगी इसलिए इंसान को कभी भी अपने वक्त पर अपनी ताकतों पर हुकूमत पर अपने अहदों पर और अपनी डिग्रियों पर और माल दौलत पर कभी भी गुरुर और घमंड नहीं करना चाहिए

    अहंकार नहीं करना चाहिए क्योंकि दोस्तों वक्त भी उनका भी नहीं हुआ जो कभी पूराबाजार खरीदने की ताकत रखती थी अल्लाह रब्बुल इज्जत में कराने करीम में फरमाया है हमें तुम लोगों से ज्यादा ताकत पर मर्दों को बनाया और हिलाकर दिया है

    इसलिए जिंदगी है सांस छोड़कर चली जाएगी मैं पर होगी तस्वीर और कुर्सी खाली रह जाएगी दोस्तों अब आपको अल्ला का एक बड़ा करिश्मा बताता हू जो चाइना में देखने को मिला है जिनमें लाखों से ज्यादा लोग इस करोना की चपेट में आ चुकी हैं मगर अल्लाह के फजलो करम से चीन में एक भी मुस्लिम करुणा की चपेट में नहीं आया

    और उसका राज है पांच वक्त की नमाज़ जब वे मुस्लिमों ने ये बात जाने तो चाइना में नमाज़ पढ़ने की होड़ सी लगी गयी और गैर मुस्लिम लोग भी दौड़ दौड़ उठकर नमाज़ पढ़ने लगी जबकि उनको यह भी नहीं मालूम था कि नमाज़ किस तरफ मुँह करके पढ़नी है

    लेकिन नमाज़ शुरू होने पर जिसकों जहाँ पर जगह मिली वो वहाँ पर भागकर नमाज़ पढ़ने के लिए खड़ा हो गया अल्लाहो अकबर दोस्त तो आपको अल्लाह की कुदरत पर पूरा भरोसा है

    तो आप इस पोस्ट को दिल से लाइक कर दीजिए और कमेंट बॉक्स में अल्लाह हुआकबर लिखकर अपने दोस्तों को भी जरूर शेयर कर दीजिए