मस्जिद के इमाम की बेटियों ने वह कर दिखाया, जो अच्छे अच्छे नहीं कर पाते, कौम की शान है यह बेटियां

हर मां बाप की यही ख्वाहिश होती है कि उनका बच्चा खुब पढ़ लिख कर बड़ा आदमी बने। लेकिन इसके लिए आज के दौर ये काफी महंगा है जिसके लिए ढेरों पैसे की जरूरत होती है। खास तौर पर जब गरीब परिवार उनके लिए अपने बच्चों को पढ़ाना काफी मुश्किल हो जाता है। लेकिन एक ऐसा गरीब परिवार जिन्होंने अपनी दोनों बेटियों को पढ़ा लिखा कर डाक्टर बना दिया है। आपको बता दें कि ये गरीब परिवार

समाज को एक बेहत रीन मिसाल पेश किया है। महा राष्ट्र के जी तालुका अंबाजोगाई गांव के  रहने वाले एक म’स्जि’द के इमाम शेख हुसैन अमीर हमजा पटेल ने वो कर दिखाया। उन्होंने अपनी दोनों बेटियों को डाक्टर बना दिया। एक मौलवी जिसकी सैलरी कितनी कम होती है। इन सैलरी पर परि वार का गुजारा करना मुश्किल होता है।

लेकिन उन्होंने हिम्मत नहीं हारा यदि अपने बेटियों को खुब पढ़ाया है। इस मौलवी ने बात करते हुए बताया आज के समय में दीनी दुनिया दोनों की तालीम बहुत जरूरी है। हम दो रोटी जरूर कम खाएं लेकिन बच्चों को जरूर पढ़ाना चाहिए। ये इस वक्त की जरूरत है और काम याबी का यही कुंजी।

इमाम शेख अमीर हमजा पटेल ने आज समाज में बेहत रीन मिसाल पैदा की तथा लोगों को बताया कि गरीबी में भी आप अपने बच्चों को पढ़ा सकते हैं तथा उन्हें पैर पर खड़ा कर सकते हैं। दुनिया भर से लोग उन्हें बढ़ाई दे रहे हैं तथा दोनों बेटियों को आगे की जिंदगी के लिए शुभका मनाएं भी दी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here