Breaking News CAA पर इलाहाबाद हाई कोर्ट से योगी सरकार बीजेपी को झटका

0
700

चलिए दोस्तों जैसी कि आप सभी को पता है कि आज इलाहाबाद हाईकोर्ट का एक फैसला आना था CAA के ख़िलाफ़ हुए लखनऊ या फिर उत्तर प्रदेश में जीतने प्रदर्शन हुए थे और उनमें से योगी और यूपी प्रशासन की तरफ से जिन लोगों को चिन्हित करके उनके पोस्टर लगाए गए थे खासकर के सार्वजनिक स्थल पर उसको ले कर के इलाहाबाद हाइकोर्ट का का फैसला आ चुका है

और योगी सरकार को बड़ी फटकार लगाई है इलाहाबाद हाईकोर्ट ने क्या कुछ कहा एक एक करके हर चीज़ की जानकारी इस पोस्ट में आपको दूंगा लेकिन उससे पहले मै एक रिकस्ट करूँगा अगर आपको भी लगता है कि हमारे देश में CAA NRC NPR की बजाय इकोनॉमी की ओर महंगाई और लोगों को रोजगार दिया जाए इसमें सरकार को काम करना चाहिए इस पोस्ट को लाइक जरूर कर दिया

दोस्तों उत्तर प्रदेश में योगी सरकार जीस तरह से लोगों पर कार्रवाई कर रही है उसको ले कर के कही ना कही लोगो के बीच एक शक तो जरूर है कि यह एक कैसी कार्रवाई आगे सरकार जिन लोगों के ऊपर भी आरोप यानी की पूरी तरह से स्थापित ही नहीं हुए हैं उन लोगो की पोस्टर कैसे कई सार्वजनिक स्थल पर लगा सकता है

जो योगी प्रशासन की तरफ से लगाया गया था उत्तर प्रदेश पुलिस की तरफ और जो है यूपी सरकार की तरफ था जिसपर जो है उत्तर प्रदेश में caa को लेकर हिंसा मामले में यूपी सरकार द्वारा लगाए गए पोस्टर पर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने साफ साफ कह दिया है

की सभी पोस्टर 16 मार्च तक हट जाने चाहिए जो खुले शब्दों में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा कि 16 मार्च तक एक भी पोस्टर नहीं देखना चाहिए सभी के सभी पोस्टर जीतने भी सार्वजनिक स्थल या कही भी लगाए गए हैं लोगों को चिन्हित करके सभी के सभी पोस्टर हटाए जाने चाहिए

इसके साथ ही साथ इलाहाबाद हाई कोर्ट ने यह भी कहा कि 16 मार्च को यूपी प्रशासन हमें इसके बारे में रिपोर्ट सौपे हम को रिपोर्ट दे कि उन्होंने क्या कार्रवाई की है वहीं आप सभी को पता होगा मेरठ में भी इसी तरह के पोस्टर्स लगाने की बात कही जा रही थी

जिसे में भी योगी सरकार को झटका लगाएं जो कि प्रशासन को झटका लगा है क्योंकि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कह दिया कि आप किसी भी सार्वजनिक स्तर पर इस तरह से बिना उसकी परमिशन के कोई भी पोस्टर या होल्डिंग नहीं लगा लगा सकते क्योंकि ये जो है राइट टू प्राइवेसी का मामला है

किसी की निजता का हनन होता है इसे आप ये नहीं कर सकते तो फटकार लगायी थी सरकार को अपने सब जो है इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कह दिया की उत्तर प्रदेश में कहीं भी इस तरह का कोई भी पोस्टर नहीं लगा दिखना चाहिए

तो यह बड़ी ख़बर जो की इलाहाबाद हाईकोर्ट की तरफ से आ रही है ये ही सरकार को कही ना कही स्पष्ट तरीके से इलाहाबाद हाईकोर्ट ने चिता दिया है कि आप इस तरह से काम न करें यह ठीक नहीं हैं और फटकार लगाते हुए कहा है सोलह मार्च तक सभी पोस्टल खर्च जानें।