एक और राज्य के चुनाव में BJP की करारी हार | 58 सीटों पर हुए चुनाव में BJP का सूपड़ा साफ़ | Himachal

0
283

दूसरा हैदराबाद राजस्थान जम्मू कश्मीर के साथ साथ कई राज्यों के निकाय चुनाव होने के बाद अब फाइनल हिमाचल प्रदेश की अट्ठावन सीटों पर हुए निकाय चुनाव के रिज़ल्ट घोषित कर दिए गए हैं यहाँ पर जो रिज़ल्ट आए हैं वो चौका देने वाले हैं बीजेपी का सूपड़ा साफ हो गया है और कांग्रेस पार्टी ने यहाँ पर एक बड़ी जीत हासिल की है

हम आपको बताएंगे कि आखिरकार हिमाचल प्रदेश के अंदर बीजेपी क्यों चुनाव हारी और कितनी सीटों पर बीजेपी को चुनाव में हार मिली और कितनी सीटों पर जीत मिली लेकिन उससे पहले एक किसी रिक्वेस्ट अगर आपको भी लगता है दोस्त हमारे देश में होने वाले तमाम चुनाव में ईवीएम का इस्तेमाल करके बैलट पेपर से चुनाव होनी चाहिए तो इस वीडियो को लाइक करके चैनल को सब्सक्राइब जरूर कर लीजिए

लंबे समय से जीत को तरस रही कांग्रेस पार्टी को हिमाचल प्रदेश से एक बड़ी खुशखबरी मिली है हिमाचल प्रदेश की अट्ठावन सीटों पर हुए निकाय चुनाव के रिज़ल्ट फाइनल घोषित कर दिए गए हैं और इन रिज़ल्ट ने बीजेपी का सूपड़ा साफ हो गया है बताया जा रहा है कि हिमाचल प्रदेश के अंदर जो वहाँ के मौजूदा मुख्यमंत्री हैं उन्हें अपने गृह जिसे भी चुनाव हार गए हैं और बीजेपी का सुपड़ा कई जगहों पर कांग्रेस पार्टी ने साफ कर दिया है एक एक करके हम आपको बताएंगे कि कितनी सीटों पर बीजेपी कितनी सीटों पर कांग्रेस और कितनी सीटों पर नई दिल्ली

यहाँ पर चुनाव जीते हैं टोटल अट्ठावन सीटों के यहाँ पर चुनाव हुए तो टल सीटों में से अगर बात करें यहाँ पर कांग्रेस पार्टी की दुसरो कांग्रेस पार्टी या उपाय की सी बी जीत ली है यानी कि कांग्रेस पार्टी ने पैंतीस सीटों पर अपनी जीत का परचम लहराया है जब कि बात करे जहा पर बीजेपी की तो बीजेपी के खाते में महज तेईस सिटी गई हैं और बची हुई सिटी किसी के खाते में नहीं गई है साथ ही साथ इनमें से नौ सीटों पर पहले ही निर्विरोध कैंडीडेट चुनाव जीत गए थे और अगर हम जीत की बात अकेले तो बताया जा रहा है

कि जो है चोट खायी सुनी रामपुर रामपुर बुशहर और ठियोग लगा सुनी नगर और रोने लगा इसके साथ जुब्बल नगर के साथ साथ कोर्ट नगर और जवाहर नगर और नरकंडा इसके साथ ही जीतने भी जगह पर निकाय चुनाव हुए हैं कांग्रेस पार्टी ने बीजेपी का सूपड़ा साफ कर दिया है और जहाँ मौजूदा सत्ता में बीजेपी सरकार है वहाँ पर इस तरह की हार ये दर्शाता है

कि शांत नौका आंदोलन और मौजूदा जो राजनीति में एक लगातार बड़े उलटफेर होते हुए दिखाई दे रहे हैं इसमें बीजेपी को एक बड़ा झटका लगा है तो ये एक बड़ा चुनाव बीजेपी हारी है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here